UPI क्या है? इसे कैसे बनाएं और यह कैसे काम करता है?

UPI in Hindi | UPI क्या है?

UPI की सुविधा ने पैसे ट्रांसफर को सक्षम करने की जटिल प्रक्रिया को समाप्त कर दिया है। जबकि IMPS/ NEFT के पारंपरिक तरीकों में प्राप्तकर्ता के नाम, कौन्‍टेक्‍ट नंबर, बैंक अकाउंट नंबर, IFSC आदि के प्रावधान की आवश्यकता होती है, यूपीआई भुगतान के लिए केवल एक UPI ID की आवश्यकता होती है, जो प्रत्येक यूजर के लिए यूनिक होता है।

UPI ने पैसे ट्रांसफर को काफी हद तक आसान बना दिया है। और यह सब केवल UPI ID के कारण ही संभव हो पाया है जो ऑनलाइन ट्रांजेक्‍शन/पैसे ट्रांसफर के लिए एक वर्चुअल पेमेंट एड्रेस के रूप में कार्य करता है। आइए विस्तार से समझते हैं कि UPI क्या है और आप इसे कैसे बना सकते हैं।

UPI Full Form

Full Form of UPI – Unified Payments Interface

UPI Full Form in Hindi

UPI Ka Full Form – UPI का फूल फॉर्म हैं – Unified Payments Interface (यूनिफाइड पेमेंट इंटरफ़ेस)

What is UPI in Hindi? | UPI क्या है?

UPI in Hindi - UPI क्या है

UPI ID प्रत्येक UPI यूजर के लिए एक Virtual Payment Address (VPA) है। यूजर की पहचान के लिए एक विशिष्ट आइडेंटिफायर के रूप में UPI सर्विसेस को एक्‍सेस करने के लिए प्रत्येक यूजर को एक ID बनाना आवश्यक है। यह ID बैंकों के लिए यूजर अकाउंट को ट्रैक करने के तरीके के रूप में कार्य करती है।

एक UPI ID का फॉर्मेट इस तरह से होता है- [email protected] (जहाँ, username या तो आपका पहला नाम हो सकता है, आपके ईमेल एड्रेस का एक हिस्सा हो सकता है, या आपका मोबाइल फ़ोन नंबर हो सकता है, और bank नाम की जगह आपके बैंक का नाम/आद्याक्षर होता है)।

यह ध्यान दिया जाना चाहिए कि अपने ग्राहकों के लिए UPI ID बनाने के लिए प्रत्येक बैंक का अपना फॉर्मेट होता है। जब कोई यूजर UPI सर्विस को सर्पोट करने वाले मोबाइल पेमेंट एप्लिकेशन पर एक प्रोफ़ाइल बनाता है, तो उसके बैंक के फॉर्मेट में एक ID स्वतः उत्पन्न हो जाएगी।

प्रत्येक UPI यूजर के लिए UPI पर एक ID होना अनिवार्य है; जिसके बिना कोई अन्य UPI यूजर से अपने बैंक अकाउंट में न तो पेमेंट कर सकता है और न ही प्राप्त कर सकता है। एक UPI आपके बैंक अकाउंट नंबर या किसी अन्य पर्सनल डिटेल्‍स से पूरी तरह से स्वतंत्र है।

UPI का मतलब क्‍या हैं?

UPI Meaning in Hindi

यूनिफाइड पेमेंट इंटरफ़ेस या UPI एक इंटरफ़ेस है जिसके माध्यम से आप एक ही विंडो में बैंक अकाउंटस् के बीच पैसे ट्रांसफर कर सकते हैं।

इसका मतलब है कि आप किसी व्यक्ति, व्यापारी या सर्विस प्रोवाइडर को खरीदारी करने, बिलों का पेमेंट करने या पेमेंट अधिकृत करने के लिए पैसे भेज या प्राप्त कर सकते हैं या Quick Response (QR) कोड स्कैन कर सकते हैं।

अपने फोन का उपयोग करके भुगतान को सक्षम करने के लिए, आपको केवल एक मोबाइल पेमेंट एप्लिकेशन और प्राप्तकर्ता का वर्चुअल एड्रेस होना चाहिए (जिसमें [email protected] जैसा कुछ लिखा हो)।

इसका मतलब है कि आप एक कदम में सीधे किसी विक्रेता या व्यक्ति के अकाउंट में पेमेंट कर सकते हैं। इसमें कोई हर बार किया जाने वाला कदम शामिल नहीं है, जैसे, हर बार आपको पेमेंट करने के लिए बैंक डिटेल्‍स या अन्य संवेदनशील जानकारी दर्ज नहीं करनी होगी।

यह सरल, नि: शुल्क और तात्कालिक है। UPI आपको साल भर में 24/7 लेन-देन करने की अनुमति देता है। वर्तमान में, कोई भी एक UPI ट्रांजेक्‍शन में  1 लाख रुपए तक का ट्रांसफर कर सकता है।

UPI को 2016 में लॉन्च किया गया था, यह नेशनल पेमेंट्स कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया (NPCI) के दिमाग की उपज है, जो भारत में रिटेल पेमेंट सिस्‍टम की देखरेख करने वाला एक संगठन है।

NPCI केंद्रीय बैंकिंग प्राधिकरण, भारतीय रिजर्व बैंक द्वारा शासित है, और इसका प्राथमिक लक्ष्य भारत को डिजिटल अर्थव्यवस्था बनने की ओर ले जाना है।

UPI कैसे IMPS से अलग/बेहतर है?

How is UPI different or better than IMPS?

यदि कोई ग्राहक IMPS सर्विसेस का उपयोग करता है, तो ट्रांजेक्‍शन ट्रांजेक्‍शन कुछ ही सेकंड में हो जाता है, लेकिन इसके लिए ग्राहक को बार-बार बैंकिंग डिटेलस दर्ज करने पड़ते है जो एक बोझिल काम हैं। साथ ही, अधिकांश बैंकों (वेबसाइट या ऐप) द्वारा प्रदान किए गए प्लेटफॉर्म बहुत अच्छे नहीं थे। संक्षेप में, UPI IMPS का एक बेहतर अवतार है।

IMPS (Immediate Payment Service)UPI (Unified Payment Interface)
भारत में तत्काल रीयल-टाइम इंटर-बैंक इलेक्ट्रॉनिक फंड ट्रांसफर सिस्‍टममोबाइल प्लेटफॉर्म पर दो बैंक खातों के बीच तत्काल फंड ट्रांसफर सिस्‍टम
फंड ट्रांसफर लिमिट (रु.) 2 लाख प्रति दिन1 लाख प्रति दिन
इंटरनेट, वेबसाइट और एप्लिकेशन की आवश्यकताकेवल इंटरनेट और स्मार्टफोन की आवश्यकता है
खाता संख्या और IFS कोड/ MMID आवश्यक हैप्राप्तकर्ता का VPA और MPIN आवश्यक है
तत्काल फंड ट्रांसफरतत्काल फंड ट्रांसफर
फंड ट्रांसफर विदेश में हो सकता हैफंड ट्रांसफर विदेश में नहीं हो सकता
लाभार्थी रजिस्‍ट्रेशन आवश्यक हैलाभार्थी रजिस्‍ट्रेशन आवश्यक नहीं है
24 X 7 मनी ट्रांसफर उपलब्ध नहीं है24 X 7 मनी ट्रांसफर उपलब्ध है
फंड ट्रांसफर की लागत 5 से 15 रु. प्लस टैक्सफ्री
भारत में लगभग सभी बैंक भुगतान की पेशकश करते हैंकेवल 21 बैंक UPI भुगतान की पेशकश करते हैं
ई-कॉमर्स लेनदेन संभव हैई-कॉमर्स लेनदेन संभव नहीं है

UPI का इतिहास क्या हैं?

History of UPI in Hindi

नेशनल पेमेंट्स कारपोरेशन ऑफ़ इंडिया (NPCI), जिसे अप्रैल 2009 में भारतीय रिजर्व बैंक और इंडियन बैंक एसोसिएशन (IBA) के सहयोग से डिजिटल पेमेंट को अपनाने में वृद्धि करने के मुख्य उद्देश्य के साथ स्थापित किया गया था, ने इसे लागू करने का कार्य किया। इसका उद्देश्य यूजर्स के लिए लेन-देन करना आसान बनाने के लिए एक यूनिफाइड पेमेंट इंटरफ़ेस बनाना हैं।

पायलट प्रोजेक्‍ट को 11 अप्रैल 2016 को मुंबई में डॉ. रघुराम जी राजन, गवर्नर, आरबीआई द्वारा लॉन्च किया गया था।

भारत में UPI फीचर वाले ऐप्स कौन से हैं?

UPI in Hindi

Apps with UPI Feature in India

UPI सुविधा प्रदान करने वाले ऐप की सूची नीचे दी गई है:

  1. PhonePe
  2. Google Pay
  3. Paytm
  4. BHIM app
  5. MobiKwik
  6. Google Tez
  7. Freecharge
  8. Jio Pay

UPI ID कैसे बनाएं?

How to Create UPI ID in Hindi?

UPI अकाउंट बनाने के स्‍टेप्‍स –

आप पाँच आसान चरणों में UPI अकाउंट ओपन कर सकते हैं:

  1. UPI के माध्यम से कैशलेस पेमेंट और तत्काल पैसे ट्रांसफर के लाभों का आनंद लेने के लिए, आपको दो चीजों की आवश्यकता है: आपका स्मार्टफोन और एक UPI-सदस्य बैंक का बैंक अकाउंट।
  2. आपका मोबाइल नंबर आपके बैंक के साथ आपकी जानकारी के हिस्से के रूप में रजिस्‍टर होना चाहिए। आज तक भारत के अधिकांश बैंक इसके सदस्य बैंक हैं। 2016 में, 21 बैंकों ने UPI की अनुमति दी। यह अब 2021 में बढ़कर 216 बैंक हो गया है।
  3. अगला कदम अपने स्मार्टफोन में कोई भी UPI सपोर्टिंग ऐप डाउनलोड करना है। UPI ऐप्स के कुछ लोकप्रिय उदाहरण PhonePe, Google Pay, Paytm, BHIM, MobiKwik, SBI Pay और BOB UPI हैं।
  4. एक बार डाउनलोड पूरा हो जाने के बाद, आपको ऐप द्वारा एक virtual ID (पहचान) बनाने के लिए कहा जाएगा। कोई भी UPI पेमेंट करने या प्राप्त करने के लिए यह आपकी यूनिक ID है। इसके बाद आपका बैंक आपके मोबाइल नंबर पर वन-टाइम पासवर्ड या ओटीपी भेजेगा ताकि यह पुष्टि हो सके कि यह वास्तव में आपका बैंक अकाउंट है।
  5. एक बार वेरिफाई हो जाने के बाद, आप अपना वर्चुअल पेमेंट एड्रेस (VPA) सेट कर सकते हैं।

UPI ID से पैसे कैसे भेजें?

इसकी सुविधा के कारण, UPI अब एक बैंक अकाउंट से दूसरे बैंक अकाउंट में पैसे ट्रांसफर करने के सबसे आसान तरीकों में से एक बन गया है। ऐसा इसलिए है क्योंकि UPI के माध्यम से किए गए ट्रांजेक्‍शन को पूरा करने के लिए केवल एक ID और एक पिन की आवश्यकता होती है।

हमने UPI के माध्यम से फंड ट्रांसफर करने के लिए आवश्यक सरल चरणों के बारे में बताया है-

  • UPI के माध्यम से एक बैंक अकाउंट से दूसरे बैंक अकाउंट में पैसे ट्रांसफर करने के लिए सबसे पहला कदम है प्राप्तकर्ता की ID प्राप्त करना।
  • ID प्राप्त करने के बाद, आपको अपने मोबाइल पेमेंट एप्लिकेशन में लॉग इन करना होगा, और Send Money through UPI विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • अब, आपको ट्रांसफर की जाने वाली राशि के साथ-साथ रिसीवर्स की UPI ID दर्ज करनी होगी।
  • इसके बाद, उस बैंक अकाउंट का चयन करें जिससे आप पैसे ट्रांसफर करना चाहते हैं और Send पर क्लिक करें।
  • राशि तुरंत आपके बैंक अकाउंट से प्राप्तकर्ता के बैंक अकाउंट में ट्रांसफर कर दी जाएगी।

UPI ID का उपयोग करके पैसे का अनुरोध कैसे करें?

UPI सर्विसेस को सपोर्ट करने वाले मोबाइल पेमेंट एप्लिकेशन न केवल आपको अपने बैंक अकाउंट से अन्य लोगों को पैसे ट्रांसफर करने की अनुमति देते हैं, बल्कि आपको किसी अन्य यूजर से पैसे का अनुरोध करने देते हैं। यहां आप ऐसा कैसे कर सकते हैं-

  • अपने मोबाइल फोन पर UPI-आधारित मोबाइल पेमेंट एप्लिकेशन ओपन करें।
  • अपने MPIN का उपयोग करके एप्लिकेशन में लॉग इन करें।
  • एप्लिकेशन में Request Money ऑप्शन पर क्लिक करें।
  • प्राप्तकर्ता का VPA विवरण दर्ज करें या मौजूदा सूची से प्राप्तकर्ता VPA का चयन करें।
  • प्राप्तकर्ता से पैसे के लिए आपके अनुरोध की पुष्टि करने के लिए अपना UPI पिन दर्ज करें।
  • यह प्राप्तकर्ता को पेमेंट अनुरोध भेजेगा।
  • एक बार ऐसा करने के बाद, प्राप्तकर्ता सीधे Approve विकल्प पर क्लिक करके और अपने मोबाइल एप्लिकेशन पर अपना UPI पिन दर्ज करके पेमेंट की पुष्टि करेगा।
  • प्राप्तकर्ता द्वारा कन्फर्म पर क्लिक करने के बाद, पैसे तुरंत आपके बैंक अकाउंट में ट्रांसफर कर दिए जाएंगे।

वर्चुअल पेमेंट एड्रेस (या VPA) क्‍या हैं?

Virtual Payment Address (or VPA)

वर्चुअल पेमेंट नेटवर्क (VPN) एक ईमेल एड्रेस की तरह दिखता है और आपके लिए यूनिक है, उदाहरण के लिए, [email protected]। आपका VPA UPI के माध्यम से पेमेंट और ट्रांसफर की अपार संभावनाओं को खोलता है। VPA गेटवे है जो आपको अपने बैंक अकाउंट से अपने फोन से पेमेंट करने की अनुमति देता है। एक से अधिक बैंक अकाउंटस् को एक ही वर्चुअल पेमेंट एड्रेस से लिंक करना भी संभव है।

VPA आपको पेमेंट में भाग लेने वाले दोनों पक्षों, यानी सेंडर और रिसीवर के लंबे बैंक अकाउंट के डिटेल्‍स टाइप करने से मुक्त करता है। यह आपकी बैंक जानकारी को भी सुरक्षित रखता है। डिजिटल वॉलेट, क्रेडिट कार्ड या सामान्य बैंक ट्रांसफर की तुलना में, VPA किसी भी पेमेंट के लिए UPI एक यूजर के अनुकूल प्‍लैटफॉर्म है।

e-RUPI in Hindi | e-Rupi क्या है? यह कैसे काम करता है, लाभ और अन्य संबंधित प्रश्न

यूपीआई में क्विक रिस्‍पॉंस (QR) कोड क्या हैं?

QR कोड प्रत्येक ट्रांजेक्‍शन के लिए यूनिक हैं और एक सहज पेमेंट अनुभव को सक्षम करते हैं। कई व्यापारी, दोनों ऑनलाइन (ई-कॉमर्स) और ऑफलाइन दुकानें, इसका प्रभावी ढंग से उपयोग करते हैं। QR कोड दो प्रकार के होते हैं: स्‍टैटिक और डाइनामिक।

स्टेटिक क्यूआर कोड वे होते हैं जिन्हें हम दुकान के काउंटर पर, टीवी पर किसी विज्ञापन या किसी कार्यक्रम में चिपके हुए देखते हैं। उन्हें स्कैन करके, आप सीधे व्यापारी के बैंक में पेमेंट कर सकते हैं।

स्टेटिक क्यूआर कोड में डेटा पहले से ही एन्कोडेड होता है। यह एक व्यापारी के लिए यूनिक है और इससे उनका बैंक अकाउंट जुड़ा हुआ है। केवल एक चीज जो ग्राहक को दर्ज करनी होती है, वह है कोड को स्कैन करने के बाद पेमेंट की जाने वाली राशि। यह छोटी दुकानों, रेस्तरां और फार्मेसियों जैसी स्थितियों में आदर्श है, जहां राशि एक ट्रांजेक्‍शन से दूसरे ट्रांजेक्‍शन में भिन्न हो सकती है।

हर बार व्यापारी द्वारा पेमेंट किए जाने पर एक डाइनामिक कोड उत्पन्न होता है। इस कोड में व्यापारी के नाम और बैंक डिटेल्‍स के अलावा पेमेंट की जाने वाली राशि शामिल है। यह किराने के सामान की होम डिलीवरी, ऑनलाइन शॉपिंग या भोजन की डिलीवरी जैसे मामलों में तेजी से लोकप्रिय हो रहा है।

डायनामिक कोड आसान, कैशलेस पेमेंट को सक्षम बनाता है, क्योंकि यह पेमेंट लूप को तुरंत बंद कर देता है, जो अधिक ग्राहकों और खुदरा विक्रेताओं को सशक्त बना सकता है।

किराना दुकानों पर उपभोक्ताओं को पेमेंट के प्रमाण के लिए व्यापारियों द्वारा अपने स्वयं के फोन स्क्रीन दिखाने का अनुरोध करना असामान्य नहीं है। यह छोटे खुदरा विक्रेता को पेमेंट प्रमाण के लिए अपने ग्राहक पर निर्भर करता है।

कुछ खुदरा विक्रेताओं, बड़ी दुकानों में, यहां तक कि उनके काउंटर पर एक नोट चिपकाया जाता है, जिसमें ग्राहक से “कृपया पेमेंट की पुष्टि की प्रतीक्षा करें” और पेमेंट की पुष्टि के लिए कीमती मिनट बिताना होता हैं। कुछ खुदरा विक्रेताओं के पास पेमेंट क्‍लोजर होने को ट्रैक करने के लिए एक अतिरिक्त स्क्रीन भी है। डायनामिक क्यूआर कोड इन सभी को समाप्त कर देता है और पेमेंट लूप को तुरंत बंद कर देता है।

पेमेंट के लिए आधार

NPCI ने सोशल और वित्तीय समावेशन के उद्देश्य से मोबाइल फोन के बिना पेमेंट की सुविधा प्रदान की है और उन लोगों का समर्थन करने के लिए जिनके पास भारत इंटरफेस फॉर मनी (BHIM) आधार पे सुविधा के साथ स्मार्टफोन नहीं है।

भीम ऐप मुख्य रूप से एक UPI ऐप है जो कई भारतीय भाषाओं में उपलब्ध है और इसे NPCI द्वारा बनाया गया था। इसके तहत, इसने BHIM Aadhaar Pay नामक एक सुविधा पेश की जो एक व्यापारी को अपने आधार नंबर और ग्राहक की बायोमेट्रिक जानकारी के साथ पेमेंट प्राप्त करने में सक्षम बनाती है। इसके साथ, अब किसी भी व्यापारी को काउंटर पर पेमेंट करना संभव है जो आधार प्रमाणीकरण का उपयोग करके भीम आधार ऐप का उपयोग करता है।

यह काम करने के लिए:

व्यापारी के पास भीम आधार ऐप के साथ एक एंड्रॉइड मोबाइल और एक प्रमाण पत्र होना चाहिए एक पॉइंट-ऑफ-सेल (POS) डिवाइस के साथ अटैच बायोमेट्रिक स्कैनर। POS डिवाइस रेंज में भिन्न हैं और इसमें मोबाइल फोन, कियोस्क, mPOS या टैबलेट शामिल हैं।

व्यापारी और ग्राहक दोनों ने अपने बैंक अकाउंटस् को अपने आधार नंबर से लिंक किया होगा।

पेमेंट प्रक्रिया उतनी ही सरल है, जितना कि अपना आधार नंबर दर्ज करना और अपना अंगूठा अपने फिंगरप्रिंट के लिए स्कैनर पर रखना।

वर्तमान में, भीम आधार पे ट्रांजेक्‍शन पर 10,000 रुपए की सीमा है।

UPI की विशेषताएं क्या हैं?

Features of UPI in Hindi

UPI ट्रांजेक्‍शन ने भारत में तेजी से प्रसिद्धि हासिल की है और विभिन्न बैंकिंग एप्लिकेशन के माध्यम से एक बड़ी आबादी के लिए उपलब्ध हैं, जो सभी स्मार्टफोन के साथ कंपेटिबल हैं। एचडीएफसी बैंक, आईसीआईसीआई बैंक आदि जैसे विभिन्न बैंकों ने अधिक सुविधाजनक तरीके से आपकी सहायता करने के लिए अपने व्यक्तिगत UPI-सक्षम ऐप पेश किए हैं। यह पेमेंट ट्रांसफर सिस्टम कई विशेष विशेषताओं से भरी हुई है जो इसे IMPS, NEFT, या RTGS फंड ट्रांसफर सिस्टम से एक कदम आगे रखता है। आइए हम UPI की प्रमुख विशेषताओं और लाभों की जाँच करें:

  1. UPI सभी 365 दिनों के लिए 24×7 मोबाइल डिवाइस के माध्यम से तत्काल पैसे ट्रांसफर प्रदान करता है
  2. विभिन्न बैंक अकाउंटस् के मैनेजमेंट के लिए इसे केवल एक मोबाइल एप्लिकेशन की आवश्यकता होती है
  3. एक क्लिक पेमेंट UPI सिस्‍टम को काफी आकर्षक बनाता है
  4. UPI ट्रांजेक्‍शन शुरू करने के लिए, आपका वर्चुअल पेमेंट एड्रेस (VPA) मुख्य आवश्यकता है। कार्ड नंबर, अकाउंट संख्या, IFSC कोड आदि जैसे डिटेल्‍स की आवश्यकता नहीं है
  5. आप एक ही मोबाइल के माध्यम से मर्चेंट पेमेंट कर सकते हैं
  6. मोबाइल एप्लिकेशन के माध्यम से शिकायतों और प्रश्नों का अनुरोध किया जा सकता है
  7. UPI मॉडल के तहत बिल शेयरिंग का विकल्प भी उपलब्ध है

UPI के फायदे क्या हैं?

Advantage of UPI in Hindi

1. फ्री मनी ट्रांसफर विकल्प:

UPI ट्रांजेक्शन सिस्टम वास्तव में सबसे सस्ता है। NEFT, आरटीजीएस और IMPS को ध्यान में रखते हुए, ट्रांजेक्‍शन के लिए UPI शुल्क मुफ्त है। इसलिए, इसकी कम लागत के कारण, यह फंड ट्रांसफर योजना छोटे फंड मूल्यों के लिए गैर-नकद ट्रांजेक्‍शन को प्रोत्साहित करने की क्षमता रखती है।

2. कैश से मुक्त:

पिछले एक दशक से, कई ऑनलाइन बैंकिंग विधियों की उपलब्धता के साथ नकद ट्रांजेक्‍शन में कमी आई है। कार्ड से पेमेंट हो, नेट बैंकिंग या मोबाइल वॉलेट, आपको पैसे भेजने / प्राप्त करने में बहुत आसानी होती है। हालांकि, किराने के बिल जैसे छोटे ट्रांजेक्‍शन करने के लिए कार्ड या नेट बैंकिंग का उपयोग अक्सर नहीं होता है। यहीं पर UPI फायदेमंद होने के साथ-साथ व्यवहार्य भी साबित होता है। इसके अलावा, इन सुगम और कम लागत वाले ट्रांजेक्‍शन ने सेंडर और रिसीवर दोनों के लिए इसे संभव बना दिया है।

3. कम विवरण:

कई लोग ऑनलाइन ट्रांजेक्‍शन या कार्ड पेमेंट का उपयोग करने से बचने का एकमात्र कारण बैंक अकाउंट डिटेल्‍स दाखिल करने की प्रक्रिया है। कार्ड से ट्रांजेक्‍शन करने के लिए, आप कार्ड नंबर, CVV नंबर और वैधता अवधि देते हैं। दूसरी ओर, नेट बैंकिंग ट्रांजेक्‍शन के लिए, आपको बैंक अकाउंट डिटेल्‍स जैसे बैंक अकाउंट नंबर और IFSC दर्ज करना होगा। लेकिन आपकी उंगलियों पर UPI की उपलब्धता के साथ, अनुरोध किए गए भुगतानों के लिए किसी कार्ड या बैंक अकाउंट के विवरण की आवश्यकता नहीं है। प्राथमिक आवश्यकता केवल वर्चुअल पेमेंट एड्रेस (VPA) है।

4. सुनिश्चित सुरक्षा:

UPI फंड ट्रांसफर सिस्टम धोखाधड़ी या विवरण खो जाने के जोखिम को कम करता है क्योंकि UPI ट्रांजेक्‍शन में बैंक अकाउंट के विवरण को शेयर नहीं किया जाता है। इसके अलावा, आपके क्रेडिट कार्ड नंबर, CVV आदि को प्रस्तुत करने की कोई आवश्यकता नहीं है। सब कुछ VPA के माध्यम से मैनेज किया जाता है जो आपके बैंक अकाउंट के बारे में कोई सुराग नहीं देता है।

इसलिए, आप किसी भी प्रकार की सूचना हानि की चिंता किए बिना UPI का उपयोग करने के लिए स्वतंत्र महसूस कर सकते हैं। इस बात का कोई डर नहीं है कि कोई आपके पिन को दर्ज करते समय भूल सकता है, जैसे एटीएम पिन, क्योंकि यह कोड आपके बैंक अकाउंट से जुड़ा नहीं है।

5. कोई भी UPI ऐप चुनें

आपको फंड ट्रांसफर करने के लिए किसी भी UPI-आधारित ऐप को चुनने का भी लाभ मिलता है। ऐसे कोई दिशानिर्देश नहीं हैं, जो किसी विशेष बैंक द्वारा प्रचारित ऐप्स का चयन करना अनिवार्य बनाते हैं। सरल शब्दों में, यदि आप आईसीआईसीआई बैंक के साथ एक बैंक अकाउंट रखते हैं, तो Google Pay जैसे किसी अन्य UPI ऐप का उपयोग करने में कोई समस्या नहीं है। हालाँकि, किसी ऐप का उपयोग शुरू करने से पहले, हमेशा इसकी कार्यक्षमता के साथ इंटरफ़ेस की जाँच करें।

क्या UPI ट्रांजैक्शन सुरक्षित हैं?

NPCI का दावा है कि कैशलेस ट्रांजेक्‍शन के लिए UPI सबसे सुरक्षित प्लेटफॉर्म है। यह दावा कुछ सुरक्षा विशेषताओं द्वारा समर्थित है:

  1. वरिफिकेशन के दौरान सुरक्षा: पहली विशेषता प्रारंभिक पंजीकरण के दौरान मोबाइल नंबर वरिफिकेशन है। यह आपके UPI अकाउंट को आपके नंबर से जोड़ देता है, जिससे यह एक पहचान का बिंदु बन जाता है। यदि आप अपना नंबर बदलते हैं, तो आपको फिर से वरिफिकेशन शुरू करना होगा।
  2. मोबाइल फोन खो जाने की स्थिति में: आप मोबाइल नंबर को ब्लॉक कर सकते हैं, जिससे आपके बैंक अकाउंट से कोई और ट्रांजेक्‍शन नहीं होगा। यह पहचान के खतरे के खिलाफ एक सुरक्षा जाल है।
  3. ट्रांजेक्‍शन के दौरान सुरक्षा: साइन अप करने पर, UPI में MPIN नामक 4 या 6 नंबर का मोबाइल पिन सेट करने का विकल्प प्रदान करता है। एक बार बन जाने के बाद, आप प्रत्येक ट्रांजेक्‍शन को MPIN के साथ प्रमाणित कर सकते हैं। यह किसी और को आपके अकाउंट से पेमेंट करने के लिए आपके फ़ोन पर ऐप का उपयोग करने से रोकता है, क्योंकि MPIN केवल आपको ही एड्रेस होता है।
  4. अन्य पक्षों के प्रमाणीकरण के दौरान सुरक्षा: UPI सिस्‍टम में अंतर्निहित एक अन्य विशेषता आपको व्यापारियों की प्रामाणिकता की जांच करने में सक्षम बनाती है, जिससे धोखाधड़ी को रोका जा सकता है। Quick Response या QR कोड और साइन्‍ड इंटेंट ऑप्‍शन आपको यह एड्रेस लगाने की अनुमति देता है कि व्यापारी UPI-सर्टिफाई है या नहीं। यदि व्यापारी UPI- सर्टिफाई नहीं है, तो आपको तुरंत सूचित किया जाता है। क्यूआर कोड छेड़छाड़ धोखाधड़ी भी बहुत कम है, और UPI ट्रांजेक्‍शन की सुरक्षा को बढ़ाता है।

UPI पर अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न

UPI का उपयोग कैसे करें?

UPI का उपयोग करने के लिए, एक ऐप खोजें और इसे अपने फोन पर डाउनलोड करें। सर्विस के लिए रजिस्‍टर करें, अपने बैंक अकाउंट को लिंक करें और वर्चूअल आडेंटिफिकेशन का उपयोग करके पैसे ट्रांसफर करें।

UPI IMPS से कैसे अलग है? क्या UPI कोई अतिरिक्त सुविधाएँ प्रदान करता है?

UPI द्वारा दी जाने वाली अतिरिक्त सुविधाओं में P2P कार्यक्षमता, व्यापारी पेमेंट का सरलीकरण, एक ही ऐप से पैसे ट्रांसफर और टू-फैक्‍टर प्रमाणीकरण के लिए सिंगल क्लिक शामिल हैं।

क्या UPI के माध्यम से ऑनलाइन व्यापारियों को पेमेंट करना संभव है?

उत्तर: उन ग्राहकों के लिए जो ऑनलाइन खरीदारी करते हैं, व्यापारियों को पेमेंट किया जा सकता है यदि पेमेंट विकल्पों में से एक में UPI विकल्प उपलब्ध है।

UPI ID क्या है?

UPI ID आपका वर्चुअल पेमेंट एड्रेस है जिसका उपयोग UPI सेवा का उपयोग करके पैसे प्राप्त करने/पेमेंट करने के लिए किया जाता है।

मैं UPI पर अपनी ID कैसे बना सकता हूं?

UPI पर अपनी ID बनाने के लिए, आपको अपने मोबाइल पेमेंट एप्लिकेशन जैसे पेटीएम में लॉग इन करना होगा और UPI सेक्‍शन पर जाना होगा। वहां, आपको Create UPI ID विकल्प देखना होगा और अपने बैंक द्वारा आपको आवंटित अपनी मौजूदा ID दर्ज करनी होगी। अब आप अपनी पसंद की ID बना सकते हैं और उसकी पुष्टि कर सकते हैं।

क्या मैं कई अकाउंटस् को अपने UPI से लिंक कर सकता हूं?

हां, आप कई अकाउंटस् को अपने UPI से लिंक कर सकते हैं। इसके अलावा, आप यह भी चुन सकते हैं कि पेमेंट करने या UPI के माध्यम से पैसे प्राप्त करने के लिए किस बैंक अकाउंट का उपयोग करना है।

अंतिम शब्‍द

NPCI ने UPI के माध्यम से पेमेंट को कैशलेस और परेशानी मुक्त बनाने के लिए एक मजबूत पेमेंट बुनियादी ढांचा तैयार किया है। यह समझना और उपयोग करना काफी सरल है, असंख्य पेमेंट ऐप और रजिस्‍टर और ट्रांजेक्‍शन शुरू करने के लिए सुविधाजनक कदम हैं।

भारत में कैशलेस ट्रांजेक्‍शन की वृद्धि घातीय दर से हो रही है क्योंकि NPCI ने भविष्यवाणी की है कि कुछ वर्षों में UPI यूजर्स की संख्या 500 मिलियन तक पहुंचने की उम्मीद है।

Previous article20+ बेस्ट पेटीएम कैश अर्निंग ऐप्स | प्रतिदिन ₹500 पेटीएम नकद कमाएं
Next articleGoogle से पैसे कैसे कमाए? 10 निश्चित और वास्तविक तरीके
किरण पाटील मुंबई महाराष्ट्र के रहने वाले हैं और आईटी और जीके से संबंधित कई ब्‍लॉगर्स के मालिक हैं। उन्होंने अपना ग्रैज्‍युएशन कंप्‍युटर साइंस में पूरा किया हैं। लेकिन जबकि ब्‍लॉगिंग में वे पिछले पाँच साल से अधिक समय से जुड़े हैं, वे इसके साथ अन्य कई सोर्स से पैसे कमा रहे हैं। और इसी वजह से उन्होंने पैसे कैसे कमाएं इस विषय पर महारत हासिल की हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.