सिबिल स्कोर क्या है? यह आपके लोन पाने की संभावना को कैसे बढ़ाता हैं?

CIBIL Score in Hindi – CIBIL Score क्या है?

यदि आप निकट भविष्य में किसी वित्तीय संस्थान से किसी भी प्रकार के ऋण के लिए आवेदन करने पर विचार कर रहे हैं, तो आपके सिबिल स्कोर का यह निर्धारित करने में बहुत असर होगा कि आप एक योग्य आवेदक हैं या नहीं।

वास्तव में, 750 या उससे अधिक के सिबिल स्कोर वाले आवेदकों के लगभग 90% लोन एप्लिकेशन्स स्वीकृत किए जाते हैं। इसलिए, यह कहना उचित होगा कि सिबिल स्कोर जितना अधिक होगा, आपके लोन एप्लिकेशन्स के अनुरोध को स्वीकृत होने की संभावना उतनी ही अधिक होगी।

हालांकि, इससे पहले कि हम यह समझें कि आपके सिबिल स्कोर को कैसे चेक करें, आइए बुनियादी बातों को समझ लें।

CIBIL Full Form

Full Form of CIBIL – Credit Information Bureau (India) Limited

CIBIL Full Form in Hindi

CIBIL Ka Full Form – CIBIL का फूल फॉर्म हैं – Credit Information Bureau (India) Limited (क्रेडिट इंफॉर्मेशन ब्यूरो (इंडिया) लिमिटेड)

What is a CIBIL Score in Hindi - CIBIL Score Kya Hai

सिबिल स्कोर क्या है? (What is a CIBIL Score in Hindi)

CIBIL फुल फॉर्म को क्रेडिट इंफॉर्मेशन ब्यूरो (इंडिया) लिमिटेड में विस्तारित किया जा सकता है जो कि भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) द्वारा अधिकृत क्रेडिट एजेंसी है जो किसी व्यक्ति के क्रेडिट स्कोर की गणना कर सकती है।

CIBIL का अर्थ मूल रूप से आपको एक CIBIL स्कोर प्रदान करके आपके ऋण पात्रता का माप है जो वित्तीय संस्थानों द्वारा उपयोग किया जाने वाला एक संख्यात्मक सारांश है, चाहे वह लोन, एडवांस या क्रेडिट कार्ड एप्लीकेशन के लिए हो।

आपका सिबिल स्कोर 3 अंकों का नंबर है जो आपके क्रेडिट रिपोर्ट पर दिखाई देता है। इसकी सामान्य सीमा 300 और 900 के बीच है, जहाँ 300 सबसे कम है और 900 उच्चतम है। आमतौर पर 700 और 749 के बीच का स्कोर अच्छा माना जाता है। इसका मतलब, 750 से अधिक कुछ भी उत्कृष्ट माना जाता है और आपके ऋण स्वीकृत होने की संभावना बढ़ जाती है। स्कोर अपने आप में डाइनामिक है और आपकी फाइनेंसियल एक्टिविटी के आधार पर बदलता रहता है।

एक क्रेडिट योग्य आवेदक के रूप में आपको यह समझने की जरूरत हैं की सिबिल स्कोर केवल बैंकों तक ही सीमित नहीं है। क्रेडिट कार्ड कंपनियां, मॉर्गेज ऋणदाता, ऑटो ऋणदाता, आदि किसी भी क्रेडिट अनुरोध को मंजूरी देने से पहले इसे आपकी ऋण पात्रता के स्नैपशॉट के रूप में उपयोग करते हैं।

सिबिल स्कोर रजिस्ट्रेशन प्रोसेस क्या हैं?

CIBIL Score Registration Process in Hindi

निस्संदेह, इसमें एक प्रक्रिया शामिल है जो आपके सिबिल स्कोर को उत्पन्न करने में मदद करती है। अपना सिबिल स्कोर लॉगिन और पंजीकरण आरंभ करने के लिए इन चरणों का पालन करें।

यदि आप एक व्यक्ति हैं:

  • सिबिल की आधिकारिक वेबसाइट https://cibil.com . पर जाएं।
  • Get Your CIBIL Score बटन पर क्लिक करें।
  • आपको जिस सब्सक्रिप्शन प्‍लान की आवश्यकता है उसे चुनें।
  • फॉर्म के पहले टैब में अपने पर्सनल डिटेल्‍स जैसे नाम, ईमेल पता, सरकारी आईडी प्रकार, आईडी नंबर और मोबाइल नंबर भरकर अपना अकाउंट बनाकर अपने CIBIL लॉगिन रजिस्ट्रेशन की ओर आगे बढ़ें।
  • Accept & Continue पर क्लिक करें जो आपको ऑनलाइन फॉर्म के दूसरे भाग में जाने में मदद करता है।
  • Verifying your Identity की दिशा में आगे बढ़ें।
  • अपने चुने हुई सब्सक्रिप्शन प्‍लान के लिए पेमेंट करने के लिए Payment सेक्‍शन पर जाएँ।
  • पेमेंट की रिसिप्‍ट प्राप्त होने पर, अब आपने साइट के साथ सफलतापूर्वक रजिस्ट्रेशन कर लिया है।
  • साइट के फीचर्स को एक्‍सेस करने और अपना सिबिल स्कोर जेनरेट करने के लिए अपने अकाउंट में लॉग इन करें।

यदि आप एक कंपनी हैं:

  • यूआरएल https://cibilrank.cibil.com/ पर जाएं।
  • सभी आवश्यक जानकारी भरें, उदाहरण के लिए, कंपनी का नाम, एंटिटि का प्रकार, आईडी प्रकार, आईडी वैल्‍यू, जीएसटीएन वैल्‍यू, पंजीकृत कार्यालय का पता, राज्य, शहर, पिन और अधिकृत हस्ताक्षरकर्ता के कौन्‍टेक्‍ट डिटेल्‍स।
  • डिटेल्‍स भरने के बाद Proceed बटन पर क्लिक करें।
  • डेबिट या क्रेडिट कार्ड या नेट बैंकिंग के माध्यम से 3,000 रुपये का भुगतान करें
  • एक सिबिल लॉगिन रजिस्ट्रेशन आईडी जो आपके लिए यूनिक है और पेमेंट ट्रांजेक्‍शन आईडी के साथ आपके रजिस्ट्रर्ड ईमेल अकाउंट पर आपके साथ शेयर की जाती है।
  • अपने सिबिल अकाउंट को एक्‍सेस करने के लिए अपने यूनिक क्रेडेंशियल्स का उपयोग करके लॉग इन करें।
  • वैकल्पिक रूप से, आपके पास फॉर्म डाउनलोड करने, सभी आवश्यक विवरण भरने और उनके रजिस्ट्रर्ड ईमेल एड्रेस या पोस्‍टल एड्रेस पर भेजने का विकल्प है।

अपने सिबिल स्कोर की गणना कैसे की जाती हैं?

How to Calculate Your CIBIL Score in Hindi

सिबिल स्कोर की गणना कैसे की जाती है? सिबिल स्कोर की गणना एक एल्गोरिदम का उपयोग करके की जाती है जो किसी व्यक्ति के ऋण और क्रेडिट कार्ड पुनर्भुगतान व्यवहार के इर्द-गिर्द घूमती है। आपके सिबिल स्कोर की गणना करते समय निम्नलिखित 6 प्रमुख फैक्‍टर को ध्यान में रखा जाता है:

सिबिल स्कोर के लिए फैक्‍टरसिबिल स्कोर
क्रेडिट मिक्ससुरक्षित (होम लोन, ऑटो लोन) और असुरक्षित क्रेडिट (पर्सनल लोन, लाइन ऑफ क्रेडिट) का संतुलित मिश्रण रखें। यह आपके सिबिल स्कोर पर सकारात्मक प्रभाव डाल सकता है।
Debt to Income Ratioअपने क्रेडिट स्कोर को बेहतर बनाने के लिए अपने ऋण जैसे क्रेडिट कार्ड बिल और गिरवी को अपनी आय के 50% से कम रखें। एक उच्च अनुपात आपके क्रेडिट स्कोर को कम कर देता है।
पेमेंट हिस्‍ट्रीअपनी ईएमआई पर चूक न करें। देर से भुगतान करना और डिफॉल्ट करना आपके सिबिल स्कोर को नकारात्मक रूप से प्रभावित कर सकता है।
उच्च ऋण उपयोगयदि आपके क्रेडिट कार्ड पर आपकी बकाया राशि अधिक है, तो यह एक बढ़े हुए पुनर्भुगतान बोझ को इंगित करता है, जो आपके सिबिल स्कोर को नकारात्मक रूप से प्रभावित कर सकता है।
एकाधिक पूछताछयदि आपने हाल ही में कई ऋणों और क्रेडिट कार्डों के लिए आवेदन किया है या अस्वीकृत किया गया है, तो ऋणदाता आपकी क्रेडिट प्रोफ़ाइल को सावधानी से देख सकते हैं क्योंकि कई क्रेडिट आवेदन आपके ऋण बोझ को दर्शाते हैं।
नकारात्मक स्थितिराइट-ऑफ लोन, फोरक्लोज़र, दिवालिएपन के लिए फाइलिंग, भुगतान में चूक के कारण अकाउंट इन कलेक्‍शन जैसी घटनाएं आपके CIBIL स्कोर पर तुरंत प्रतिकूल प्रभाव डालती हैं। यह आपके संभावित ऋणदाता को चेतावनी देता है कि आप अपने वित्त को संभालने में असमर्थ हैं जिसके लिए उन्हें अपने पैसे की वसूली में कठिनाई का सामना करना पड़ सकता है।

पर्सनल लोन प्राप्त करने में सिबिल स्कोर की भूमिका कितनी महत्वपूर्ण हैं?

आपका सिबिल स्कोर पर्सनल लोन प्राप्त करने का एक महत्वपूर्ण हिस्सा है। ऐसे अन्य फैक्‍टर भी हैं जो आपके लोन एप्लिकेशन के अनुमोदन में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं।

पर्सनल लोन के लिए ऑनलाइन आवेदन करने से पहले, सुनिश्चित करें कि आपका सिबिल स्कोर आपके पास है। उदाहरण के लिए, उच्च CIBIL स्कोर, 750 या अधिक, आपको किसी भी प्रकार के ऋण के लिए एक आदर्श उम्मीदवार बनाता है। एक अच्छे स्कोर के माध्यम से, आपके पर्सनल लोन के स्वीकृत होने की अच्छी संभावना होगी।

दूसरी ओर, पर्सनल लोन के लिए 550 या उससे कम CIBIL स्कोर आपके ऋण आवेदन को रद्द कर सकता है क्योंकि आपको ‘उच्च जोखिम’ वाला उम्मीदवार माना जा सकता है। यहां तक ​​​​कि अगर आपको पर्सनल लोन की पेशकश की जाती है, तो दी जाने वाली ब्याज दरें सामान्य से अधिक हो सकती हैं।

सिबिल स्कोर की गणना कौन करता है?

TransUnion CIBIL एक क्रेडिट ब्यूरो या क्रेडिट इनफॉर्मेशन कंपनी है, जिसकी स्थापना 2000 में हुई थी, जो भारत में अपनी तरह की पहली कंपनी है। फर्म अपने भंडार में संग्रहीत उपभोक्ता जानकारी के आधार पर व्यक्तियों के सिबिल स्कोर की गणना करती है। वे स्कोर की गणना में सटीकता और पारदर्शिता के लिए जाने जाते हैं।

अच्छा सिबिल स्कोर और खराब सिबिल स्कोर क्या हैं?

सिबिल स्कोरइसका क्या अर्थ है
850 – 900दिखाता है कि आपने कभी एक बार भी लोन की किश्त भरने में चूक नहीं की है और यह एक उत्कृष्ट स्कोर है।
750 – 850यह एक तथ्य है कि 750+ स्कोर वाले 79% लोगों का लोन अप्रूव हो जाता है। 800 से ऊपर के स्कोर को उच्च माना जाता है और आप आसानी से पर्सनल लोन और क्रेडिट कार्ड को कम रेट पर मांग सकते हैं।
700 – 750सुरक्षित लोन के लिए एक अच्छा स्कोर। हालांकि, असुरक्षित क्रेडिट के लिए, बैंक आगे की जांच कर सकता है या थोड़ी अधिक दरें लगा सकता है।
500 – 700यह दर्शाता है कि आपने अतीत में लोन की किश्त भरने में कई बार देरी या चूक की है। पर्सनल लोन बैंक से प्राप्त करना मुश्किल हो सकता है। एक निजी फाइनेंसर भारी ब्याज लगा सकता है।
300 – 500इस तरह का खराब स्कोर पिछले ऋण चुकौती में बहुत अधिक विसंगतियों को अनदेखा करने का संकेत देता है। जब तक आप क्रेडिट रिपेयर या सुधार पर काम नहीं करते हैं, तब तक आपके लिए देश के किसी भी बैंक से लोन प्राप्त करना असंभव होगा।

सिबिल स्कोर क्यों महत्वपूर्ण है?

ऋण और क्रेडिट कार्ड अनुमोदन प्रक्रिया में सिबिल स्कोर या क्रेडिट स्कोर की महत्वपूर्ण भूमिका होती है। बैंक और एनबीएफसी जो आपको ऋण दे रहे हैं, आपके ऋण आवेदन की समीक्षा करते समय यह पहला स्क्रीनिंग मानदंड है। आम तौर पर, यदि आपका क्रेडिट स्कोर 750 से थोड़ा कम है तो भी आप पर विचार किया जा सकता है लेकिन यदि यह बहुत कम है तो आपका आवेदन पूरी तरह से खारिज कर दिया जाता है।

आइए इसे दो निजी क्षेत्र के कर्मचारियों के उदाहरण के साथ समझते हैं, जिनका क्रेडिट स्कोर क्रमशः 800 और 610। क्या होता है जब वे होम लोन के लिए अप्लाई करते हैं? यह अधिक संभावना है कि बैंक आगे के मूल्यांकन के लिए 800 क्रेडिट स्कोर वाले व्यक्ति की स्क्रीनिंग करेगा, जबकि 610 के क्रेडिट स्कोर वाले आवेदन को प्रोसेस नहीं किया जा सकता है। यह कहना नहीं है कि 610 अंक वाले व्यक्ति को पूरी तरह से खारिज कर दिया जाएगा, लेकिन वे उस मामले में अधिक ज़मानत या उच्च ब्याज दर की मांग करेंगे।

आधार कार्ड पर लोन कैसे ले? इसके पात्रता मानदंड, विशेषताएं और लाभ

अंतिम विचार

आपको समय-समय पर अपने सिबिल स्कोर को चेक करने की आदत डालनी चाहिए। यह आपको एक विचार देने के लिए है कि संभावित उधारदाताओं द्वारा आपकी प्रोफ़ाइल को कैसा माना जा रहा है। अपने CIBIL स्कोर की नियमित रूप से निगरानी करने से आपको अपनी क्रेडिट प्रोफ़ाइल बनाने में मदद मिलती है।

Previous articleChampcash ऐप क्या है? इसमें अकाउंट कैसे बनाये? Champcash से पैसे कैसे कमाए?
Next articleसपने में पैसे और सोना देखने का क्या मतलब होता हैं?
वैशाली महाजन मुंबई महाराष्ट्र की रहने वाली हैं। उन्होंने अपना ग्रैज्‍युएशन कॉमर्स में पूरा किया हैं। वे दस साल से एक निजी बैंक में लोन डिपार्टमेंट में काम कर रही हैं। वे अपना बैंकिंग और लोन पर मिला दस साल का पूरा अनुभव आपके साथ शेयर कर रही हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.